आज श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहा हर्षित गगन। RSS hindi geet । हे परम आराध्य केशव।

आज श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहा हर्षित गगन। RSS hindi geet ।

हे परम आराध्य केशव।

 

आज श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहा हर्षित गगन

 

आज श्रद्धा सुमन अर्पित कर रहा हर्षित गगन

हे परम आराध्य केशव युग परुष शत – शत नमन। ।

 

दास्ताँ की श्रृंखला से बध्द भारत भूमि प्यारी

लुप्त चिति धृति और कृति थी सुप्त थी संस्कृति हमारी

सुप्त हिन्दू राष्ट्र को जागृत किया बन रवि किरण। ।

हे परम आराध्य ……………………

 

संगठन का मंत्र अभिनव संघ सुरसरी को बहाकर

कोटि युवकों के हृदय में राष्ट्र भक्ति को जगाकर

कर दिया अर्पित स्वयं को मातृ चरणों में मगन। ।

हे परम आराध्य ……………………

 

आपका वह धन्य जीवन प्रेरणा है बन गयी

कोटि युवकों के लिए साधना है बन गयी

मातृभू पर हो समर्पित एक है बस यह रटन। ।

हे परम आराध्य ……………………

 

हर नगर हर ग्राम में नव चेतना का दीप जलता

हर ह्रदय को कर प्रकाषित संगठन का राग भरता

हो रही साकार है वह कल्पना साक्षी गगन। ।

हे परम आराध्य ……………………

 

 

kinkdly see this RSS Leaders Qulification 

संसार मैं विद्या के बिना मनुष्य पलाश के पुष्प के समान है। पलाश का पुष्प दिखने में बड़ा मनोहर लगता है किंतु उसने सुगंध नहीं होती। अतः वह देवी – देवताओं को नहीं चढ़ाया जाता , उसी प्रकार जिस मनुष्य में विद्याभ्यास नहीं किया वह संसार में हंसों के बीच में बगुलों  के समान जीवन जीते हैं। 

 

 

इस भगवा प्लेटफार्म से हम हिंदू अथवा हिंदुस्तान के लोगों से एक सभ्य व शिक्षित समाज की कल्पना करते हैं। जिस प्रकार से राम – राज्य में शांति और सौहार्द का वातावरण था , वैसे ही राज्य की कल्पना हम इस समाज से करते हैं।

आपसे अनुरोध है कि अपने विचार कमेंट बॉक्स में सम्प्रेषित करें। 

फेसबुक और व्हाट्सएप के माध्यम से अपने सुभेक्षु तक भेजें। 

अपना फेसबुक लाइक तथा यूट्यूब पर सब्स्क्राइब करना न भूलें। 

facebook  page

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *