धर्म संस्कृति

संपूर्ण दुर्गा चालीसा | नवरात्री दुर्गा चालीसा और पूजा | Durga chalisa sampoorna

संपूर्ण दुर्गा चालीसा और पूजा में इस्तेमाल होने वाली सभी पाठ का विवरण | Durga chalisa sampoorna | देवी के १०८ नाम भी दिए गए हैं जो पढ़ना आवश्यक होता है | और नव गृह शांति पाठ भी दिया गया है | साथ ही साथ आरती भी दी गयी है | जिससे पूजा पूरी होती है […]

धर्म संस्कृति

गीता का सार एक जीवन जीने की शैली। जीवन की सफलता का मन्त्र। geeta ka saar in hindi

गीता कोई धार्मिक वस्तु नहीं है अपितु जीवन जीने का सही तरीका बताने वाली एक महान पुस्तक है  | मनुष्य को सही मार्ग सूझती है | ये हर धर्म के लोगो के लिए है | भारत की इस महान पुस्तक को विदेश में भी खूब प्यार मिल रहा है | और ये इसलिए संभव हो पाया है | […]

धर्म संस्कृति

क्षमा प्रार्थना पूजा के पूर्ण होने पर यह जरूर पढ़ें नवरात्र। kshama prarthna for navratra

क्षमा प्रार्थना बहुत आवश्यक पाठ होता है | जो हमे हर पूजा विधि के बाद जरूर करना चाहिए | क्योकि हम सब को नहीं पता की पूजा की संपूर्ण विधि क्या होती है | इसलिए अगर कोई गलती हो जाती है अनजाने में तो हमे क्षमा याचना जरूर कर लेनी चाहिए | ताकि देवता हमसे […]

धर्म संस्कृति

इतनी शक्ति हमें देना दाता।HINDI PRAYER | हिंदी प्रार्थना मन की शांति के लिए।

इतनी शक्ति हमें देना दाता | HINDI PRAYER Full lyrics   इतनी शक्ति हमें देना दाता , मनका विश्वास कमजोर हो ना। हम चलें नेक रस्ते पे, हमसे भूलकर भी कोई भूल हो ना। इतनी शक्ति हमें देना दाता, मनका विश्वास कमजोर हो ना। हम चलें नेक रस्ते पे, हमसे भूलकर भी कोई भूल हो ना। […]

गायत्री मन्त्र
धर्म संस्कृति

गायत्री मन्त्र का माहत्म्य स्वस्थ्य के लिए लाभदायक। gaytri mantr arth hindi me

गायत्री मन्त्र क्यों और कब ज़रूरी है गायत्री मन्त्र के प्रत्येक शब्द की व्याख्या  (Gayatri Mantra Meaning by words in Hindi) ॐ = प्रणव भूर = मनुष्य को प्राण प्रदान करने वाला भुवः = दुख़ों का नाश करने वाला स्वः = सुख़ प्रदान करने वाला तत = वह सवितुर = सूर्य की भांति उज्जवल वरेण- ्यं = […]

धर्म संस्कृति

सूर्य नमस्कार मन्त्र हिंदी में उच्चारण सहित। ध्यये सदा सवित्र मंडल। surya mantr in hindi

सूर्य नमस्कार मन्त्र surya namskaar mantra ॐ ध्यये सदा सवित्र मंडल   ” ॐ ध्यये सदा सवित्र मंडल मध्यवर्ती। नारायण सरसिजसनसन्निविष्टः केयूरवन मकरकुण्डलवान किरीटी। हारी हिरण्मय वपुः धृतशंखचक्रः। ।   अर्थात सूर्य मंडल में स्थित , कमल पर विराजमान , सुवर्णाभूषणो से सुशोभित तथा सुवर्ण कांटी के शंख चक्रधारी भगवान नारायण को ध्यान करें।   […]

धर्म संस्कृति

गंगा दशहरा महत्व पृथ्वी पर आगमन पौराणिक महत्व। ganga dashhara ganga snan

गंगा दशहरा का महत्व।    माँ गंगा की उत्त्पति से पृथ्वी आगमन तक का इतिहास   जेष्ठ शुक्ल पक्ष दशमी को संपूर्ण भारत में गंगा दशहरा नामक महान धार्मिक पर्व मनाया जाता है। ” दशम्यां शुक्लपक्षे तु ज्येष्ठे मासे बुधेsहनी।  अवतीर्ण यतः स्वर्गाद्धस्तक्षेर् च सारिद्व्रा। । हरते दश पापनि तस्मादृशहरा स्मृता। ”       अर्थ […]

धर्म संस्कृति

सरस्वती वंदना देवी पूजन sarswati vandna | माँ शारदा का वंदना। हंस वाहिनी।

सरस्वती वंदना , देवी पूजन ,हंस वाहिनी   माँ शारदे हंस वाहिनी वीणापाणि ब्रह्मभामिनी कलास्वामिनी जग तारदे। ह्रदय गगन में , मर्त्य भवन में मुक्त पवन में , हर एक मन में जग जीवन में रश्मि कर दे माँ शारदे हंस वाहिनी ………………… । ज्ञानहीन हूँ में , ध्यानहीन हूँ में बुद्धिहीन हूँ , विवेकहीन हूँ […]