RSS GEET ( संघ गीत )

फिर क्या दूर किनारा संघ गीत हिंदी में। rss best geet in hindi | गणगीत आरएसएस हिंदी

फिर क्या दूर किनारा संघ गीत – fir kya door kinara rss geet written here full lyrics   फिर क्या दूर किनारा   फिर क्या दूर किनारा त्याग प्रेम के पथ पर चलकर मूल न कोई हारा। हिम्मत से पतवार सम्भालो फिर क्या दूर किनारा। हो जो नहीं अनुकूल हवा तो परवा उसकी मत कर। …

फिर क्या दूर किनारा संघ गीत हिंदी में। rss best geet in hindi | गणगीत आरएसएस हिंदी Read More »

भारत राष्ट्र महान संघ गीत sangh geet bharat rashtra mahan

भारत राष्ट्र महान संघ गीत rss song full lyrics    भारत राष्ट्र महान   भारत राष्ट्र महान। महा मोह को त्याग जगे चिर – सुप्त भरत – संतान। । सिद्ध जायस्वी सत्य सनातन , भर दे कण – कण में नव जीवन। जन – जन में नव स्फूर्त जगा दे , पुण्य पुरातन गान। महा …

भारत राष्ट्र महान संघ गीत sangh geet bharat rashtra mahan Read More »

मंत्र छोटा रीत नई आसान हमने पाई है। वर्ग गीत। संघ वर्ग गीत आरएसएस

मंत्र छोटा रीत नई आसान हमने पाई है वर्ग गीत आरएसएस  मंत्र छोटा रीत नई आसान हमने पाई है छोटे छोटे संस्कारों से बात बडी बन जाती है ॥२ बाते करने से क्या होता नियमित होना पडता है नियमित शाखा जाते जाते अनुशासन फिर आता है अनुशासन ही संस्कारों का पंथ खुला कर देता है …

मंत्र छोटा रीत नई आसान हमने पाई है। वर्ग गीत। संघ वर्ग गीत आरएसएस Read More »

मात चरणों में समर्पित शक्ति। aradhna sangh geet ,आराधना । rss geet

मात चरणों में समर्पित शक्ति – rss sangh geet lyrics मात चरणों में समर्पित शक्ति   आराधना आराधना आराधना। मात चरणों में समर्पित शक्ति संकुल अर्चना। । आराधना आराधना आराधना। पुण्य सलिल सरित पूजित सुरभि रज से देह निर्मित। मलय शीतल वायु सेवित तेज की ध्रुव साधना। । आराधना आराधना आराधना। मनु भरत से आज …

मात चरणों में समर्पित शक्ति। aradhna sangh geet ,आराधना । rss geet Read More »

बढे चलो बढे चलो संघ गीत rss | RSS sangh geet badhe chalo

बढे चलो बढे चलो संघ गीत   बढे चलो बढे चलो संघ गीत   बढे चलो बढे चलो  न हाथ एक अस्त्र हो  ,  न साथ एक शस्त्र  हो ,  न अन्न नीर वस्त्र हो , हटो नहीं डटो वहीं बढे चलो बढे चलो। ।   रहे सक्षम हिमशिखर , तुम्हारा पग उठे निखर , …

बढे चलो बढे चलो संघ गीत rss | RSS sangh geet badhe chalo Read More »

भारत भगवा ध्वज गीत। संघ rss geet | bhart me fir bhgwa dhwaj rss geet

भारत भगवा ध्वज गीत   भारत में फिर भगवा ध्वज फिर भगवा ध्वज लहरेगा।  भारत की पुण्य भूमि फिर रामराज्य बन जायेगा। ।२    कौन बनेगा अर्जुन यौद्धा कौन कृष्ण बन जाएगा।  कौन भारत की डूबती नय्या आकर पार लगाएगा।   धीर धरो ए हिन्दू वीरों वह दिन फिर भी आएगा।  जब भारत का बच्चा बच्चा …

भारत भगवा ध्वज गीत। संघ rss geet | bhart me fir bhgwa dhwaj rss geet Read More »

मन मस्त फकीरी धारी है।Man mast fakiri dhari hai ful rss geet with lyrics

मन मस्त फकीरी धारी है , अब एक ही धुन जय-जय भारत। Man mast fakiri dhari hai rss geet with lyrics   मन मस्त फकीरी धारी है। अब एक ही धुन जय-जय भारत। । २   हम धन्य है इस जग जननी की सेवा का अवसर है पाया।२ इसकी माटी , वायु , जल से …

मन मस्त फकीरी धारी है।Man mast fakiri dhari hai ful rss geet with lyrics Read More »

मन समर्पित तन समर्पित

मन समर्पित तन समर्पित। एकल गीत गुरुदक्षिणा हेतु। rss ekal geet | gurudkshina

एकल गीत गुरुदक्षिणा हेतु rss ekal geet -gurudkshina मन समर्पित तन समर्पित गीत – मन समर्पित तन समर्पित और यह जीवन समर्पित   मन समर्पित तन समर्पित और यह जीवन समर्पित।  चाहता हूँ मातृ-भू तुझको अभी कुछ और भी दूँ ॥   माँ तुम्हारा ऋण बहुत है मैं अकिंचन।  किन्तु इतना कर रहा फिर भी …

मन समर्पित तन समर्पित। एकल गीत गुरुदक्षिणा हेतु। rss ekal geet | gurudkshina Read More »

पूज्य मां की अर्चना

पूज्य मां की अर्चना का एक छोटा उपकरण हूं। एकल गीत। rss ekal geet | pujy ma ke archna

एकल गीत। rss ekal geet | pujya maa ke archna   पूज्य मां की अर्चना पूज्य मां की अर्चना का , एक छोटा उपकरण हूं।  उच्च है वह शिखर देखो  , मैं नहीं वह स्थान लूंगा।  और चित्रित भीती का है  , मैं नहीं शोभा बनूंगा। पूज्य है यह मातृमंदिर  ,नींव का मैं एक कण हूं।  पूज्य …

पूज्य मां की अर्चना का एक छोटा उपकरण हूं। एकल गीत। rss ekal geet | pujy ma ke archna Read More »

आरंभ है प्रचंड बोले मस्तकों के झुण्ड।Arambh hai parchand lyrics in hindi

आरम्भ है प्रचण्ड Arambh hai parchand lyrics in hindi     आरम्भ है प्रचण्ड, बोले मस्तकों के झुंड, आज ज़ंग की घड़ी की तुम गुहार दो आन बान शान या कि जान का हो दान आज इक धनुष के बाण पे उतार दो आरम्भ है प्रचण्ड… मन करे सो प्राण दे, जो मन करे सो …

आरंभ है प्रचंड बोले मस्तकों के झुण्ड।Arambh hai parchand lyrics in hindi Read More »

error: Content is protected !!